fbpx

Government of India act 1935

    Government of India act 1935 अधिनियम में भारत को एक पूर्ण उत्तरदायी सरकार के गठन में एक मील का पत्थर साबित हुआ। यह एक लंबा और विस्तृत दास्तावेज था, जिसमें कूल 321 धाराएं और 10 अनुसूचियां थी।


1935 act in hindi
Government of India act 1935


Government of India act 1935 अधिनियम की विशेषताएं निम्न है-

  (1) Government of India act 1935 अधिनियम के द्वारा भारत में सर्वप्रथम अखिल भारतीय संघ की स्थापना कीया गया जिसके तहत राज्य और रियासतों को एक ईकाई की तरह माना गया। इस अधिनियम में केन्द्र और इकाइयों के बीच तीन सूचियों का निमार्ण किया गया।
      (a) संघीय सूची = 59 विषय = शक्ति बनने का अधिकार वायसराय को |
      (b) राज्य सूची = 54 विषय = शक्ति बनने का अधिकार राज्यों या प्रान्तों को।
     (c) समवर्ती सूची = 36 विषय = शक्ति बनने का अधिका वायसराय और राज्यों को लेकिन आपातकाल में वायसराय को यह शक्ति प्रदान कर दी जाती थी।



क्या आप जनते है कि Government of India act 1858
  (2) Government of India act 1935 अधिनियम के द्वारा प्रांतों के द्वैध शासन व्यावस्था को समाप्त कर दिया गया और प्रांतीय स्वायतत्ता का शुभारंभ किया गया।

  (3) Government of India act 1935 अधिनियम के द्वारा केंद्र में द्वैध शासन व्यावस्था प्रणाली का शुभारंभ किया गया।

  (4) Government of India act 1935 अधिनयम के द्वारा 11 राज्यो में 6 द्विसदनीय व्यवस्था को प्रारंभ किया गया जो इस प्रकार है. बंगाल, बंबई, मद्रास, संयुक्त प्रांत और असम में द्विसदनीय विधान परिषद् और विधानसभा बन गईं।

  (5) Government of India act 1935 अधिनियम के द्वारा दलित जातियों, महिलाओं और मजदूर वर्ग के लिए अगल से निर्वाचन की व्यवस्था कर सांप्रदायिक प्रतिनिधित्व व्यवस्था का विस्तार किया गया।
  
  (6) Government of India act 1935 अधिनियम के द्वारा भारत शासन अधिनियम 1858 के द्वारा स्थापित भारत परिषद को पूर्ण रूप से समाप्त कर दिया गया।

  (7) Government of India act 1935 अधिनियम के द्वारा भारत में संघीय न्यायापल की स्थापना हुई जिसके तहत सन् 1937 में भारत में संघीय न्यायापल की स्थापना हुई।

  (8) Government of India act 1935 अधिनियम के द्वारा RBI कि स्थापना किया गया।
Government of India act 1935 अधिनियम के द्वारा भारत में लोक सेवा आयोग की स्थापना की गई बल्कि प्रांतिय सेवा आयोग की भी स्थापना किया गया।


     Government of India act 1935 कभी भी प्रावधान में नहीं आ सका क्योकि सन् 1974 में भारत आजाद हो गया। यह अधिनयम मुख्यतः कागजो में ही रह गया। भारतीय संवीधान में भारत शसान अधिनयम 1935 का सबसे भाग नियत है।

Know The What is the Exam Que for the Government of India act 1935 – Click here


Ram Pal Singh

Hi, This is Ram Pal Singh. I am a Profocinal Blogger and content writer, and Now I am working in the Government Sector in Uttar Pradesh.

Leave a Reply

Close Menu